Wi fi का फुल फार्म क्या होता है इन हिंदी में? Wifi का मतलब क्या होता है और wifi full form? Wifi full name क्या है?

Wifi फुल फार्म इन हिंदी में? Wifi क्या है और wifi कैसे काम करता है? 

Hello दोस्तों यहां पर हम जानने वाले हैं की आखिर यह wifi का फुल फार्म क्या होता है और यहां पर आप सभी भाइयों को prdptech.com वेबसाइट पर स्वागत है|


आज के काफी सारे लोगों को के मन में wifi full name से जुड़े काफी सारे सवाल पैदा होता है तो यहां पर उन सभी के बारे में details के साथ जानने वाले हैं| 

What is the full form of wifi in hindi mean. Wifi full form in English. Wifi full form in hindi. Wifi kya hai. Wi-Fi kya hai.
What is the full form of WIFI!

दोस्तों आगर आप wifi का फुल फार्म के बारे में जानना चाहते हो तो ऐसे में आप बिलकुल सेही पर आए हैं क्योंकि यहां पर wi fi का फुल फार्म से जुड़े ऐसे कई सारे बेसिक जानकारी को भी दिए गए है जोकि हर एक व्यक्ति को पता होना काफी जरुरी है| 


क्या आप जानते हैं की आखिर wifi क्या है नहीं ना तो इस post के साथ जुड़े रहें यहां पर आपको सारे सवालों का जबाब मिल जाएगा, आगर आपको already wifi क्या है उसके बारे में पता है फिर भी यह post बने रहना चाहिए क्योंकि यहां पर wifi से जुड़े ऐसे कई सारे बेसिक जानकारी बताया गया जिसके बारे में शायद आपको पहले से पता न हो| 


Wifi क्या है? Wifi का मतलब क्या होता है इन हिंदी में? 

दोस्तों आज के समय में हर कोई लोग कम मेहनत के साथ काम करना पसन्द करते हैं| 


एक ऐसा समय था जब internet को access करने के लिए internet cable का उपयोग करना पडता था लेकिन आज के समय में इसके बदले में wifi नाम का एक wireless system launch कर दिया गया है जिससे की हमको internet cable की जरुरत नहीं होती है| 


यहां पर आपके अन्दर अभी भी सवाल घुर रहा होगा की आखिर wifi क्या है, तो दोस्तों बता दें की wifi एक ऐसा जरिए है जिसके माध्यम से हम बिना cable (without cable) के internet access कर सकते हैं| 


पहले के समय सिर्फ और सिर्फ internet connection access करने के लिए लोगों को cable लगाना पडता था, लेकिन जब से wifi का शुरुआत हुआ तब से लोगों को internet connection access के लिए cable लगाने से छुटकारा मिली है| 



Wifi इतना ज्यादा useful है की, जिसका उपयोग हर कोई करता है| 

Wifi हम सभी को बहुत ही ज्यादा फायदा पहंचाता है जिसके कारण यह service आज के समय में काफी ज्यादा लोकप्रिय (popular) है| 


Wifi full name क्या होता है? 

आपको थोडा बहुत अन्दाजा हो चुका होगा की आखिर wifi क्या है, तो यहां पर जानने वाले हैं wifi long form क्या है? 
Wi fi ka full form. Wifi ka full form kya hota hai in Hindi mein. Wifi ka full form kya hai. Wifi full name. Wifi long form.
Wi fi ka full form!

  • Wi Fi का फुल फार्म ::- "Wireless Fidelity"

Wifi का मतलब क्या होता है इन हिंदी? Wifi meaning in hindi?

आपको पता चल चुका होगा की Wi-Fi क्या है तो उसका मतलब क्या है उसके बारे में जानने वाले हैं|

Wifi ka matlab kya hota hai. Wifi meaning in Hindi. Wifi means in Hindi. Wifi kya hai. Wifi ko hindi me kya kehte hain.
Wifi का मतलब क्या होता है?

ऐसे आगर देखा जाए तो wifi का मतलब क्या है उसके बारे में already बता दिया गया है, लेकिन यहाँ पर ओर भी ज्यादा गेहराई के साथ जानने वाले हैं| 


Wifi meaning in Hindi :- दोस्तों wifi का हिंदी meaning होता है "वायरलेस फिडेलिटी", जिसे हम शुद्ध भाषा में वोलें तो बिना वायर के इन्टरनेट को उपयोग करना| 


क्या wifi को उपयोग करने के लिए पैसा लगता है? 

जिन लोग भी Wi-Fi के बारे में पहली बार जान रहे हैं तो ऐसे में उनके अन्दर काफी सारे सवाल होगा|

यहां पर हम आपको बता दें की wifi को उपयोग करने के लिए किसी भी प्रकार का पैसा नहीं लगता है, लेकिन wifi को उपयोग में लाने के लिए पैसा देना पडता है| 


यहां पर आपको शायद समझ में नहीं आया होगा तो यह example को समझे :- 

जौसे की हम अपना SIM card को recharge करते हैं, ठीक उसी प्रकार से wifi को भी recharge करना पडता है और आप कितना दिन का recharge करोगे वो बिलकुल आपके उपर depend करता है| 


Wifi एक ऐसा system है जिसे सिर्फ एक ही बन्दा recharge करता है लेकिन उस wifi को काफी सारे लगो access कर सकते हैं| 

इसी लिए यहां पर बताया गया की wifi को उपयोग करने के लिए पैसा नहीं लगता है क्योंकि जो व्यक्ति recharge करेगा उसे ही पैसा देना होगा और बाकी लोग बिलकुल मुफ्त में wifi को उपयोग कर सकते हैं| 



क्या wifi को किसी भी व्यक्ति access कर सकता है?

दोस्तों आगर आपके अन्दर ये सवाल है तो इसका उत्तर "ना" है| 

हां दोस्तों आपने बिलकुल सेही पढा wifi को सभी लोग access नहीं कर सकते हैं और वो कैसे उसके बारे में यहां पर समझते हैं| 

दोस्तों wifi device (wifi router) जिस भी व्यक्ति का होता है वो अपना wifi को access करने के लिए एक password set कर के रखता है क्योंकि बेकार का फालतू लोग अपना wifi को access ना कर सके| 


जिन लोगों को भी wifi का password पता होता है सिर्फ उन्हीं लोग ही उस wifi को access कर सकते हैं| ये बिलकुल wifi connection share करने वाले के उपर रहता है की वो किस व्यक्ति को wifi password बताता है किसको नहीं| 


ओर आपको यह बात भी पता होना काफी जरुरी है की wifi सिर्फ सीमित स्थान पर ही काम करता है| wifi एक बहुत ही छोटा सा device होता है जोकि कुछ ही सीमित स्थान पर internet connection provide करता है| 

यहां पर हम उदाहरण के साथ समझते हैं :- 
जैसे की अपना मोबाइल फोन का Bluetooth को ओर एक Bluetooth के साथ connect करने के लिए हमको उतना पास रहना पडता है जितना दुर तक Bluetooth access supply कर सकता है| ठीक उसी प्रकार से wifi में भी होता है, यानी की हम बहुत ज्यादा दुर से wifi को access नहीं कर सकते हैं| wifi भी कुछ सीमित स्थान के अन्दर ही internet को supply कर सकता है| 


दोस्तों कुछ office होता है या फिर ऐसे कुछ company होता है जोकि अपना wifi hub में किसी भी प्रकार का password set नहीं किया होता है तो ऐसे में इसे किसी भी व्यक्ति access कर सकता है| 


Wifi device को क्या कहा जाता है? 

दोस्तों आपको पता होना ज़रूरी है की wifi device को कौन सा नाम से जाना जाता है| 

जो device हमको wireless internet connection provide करता है यानी की device हमको wifi का access प्रदान करता है उसे wifi hub, wifi router या फिर wifi Transmitter के नाम से जाना जाता है| यह है वो device का नाम जोकि wifi network को create करता है| 


अपने device में ऐसे कौन सा circuit होता जिसके कारण हम wifi को access करते हैं?

दोस्तों हर एक device wifi को access नहीं कर सकता है उसके लिए उस device के अन्दर "in built Wireless Adapter" नाम का circuit लगा होना चाहिए| 


आपको शायद पता होगा की keypad mobile phone से हम wifi को access नहीं सकते हैं और इसका reason आप जान सकते हो की उसमें in built Wireless Adapter लगा हुआ नहीं रहता है| 


आज के में लगभग सारे smartphones में in built Wireless Adapter लगा हुआ रहता है, यानी की आप समझ गए होगें की आज के समय में सारे smartphones wifi signal को access करता है| 



Wifi कैसे काम करता है? 

Wifi क्या है उसके बारे में पता हो जाने के बाद आपको यह जरूर पता होना चाहिए की आखिर wifi काम कैसे करता है? 


आज कल हर जगह पर wifi का उपयोग किया जाता है जैसे की office, company, hostel etc. हर जगह पर wifi इस्तेमाल होता है लेकिन फिर भी किसीको यह जानकारी नहीं है यह wifi काम कैसे करता है| 

  1. Wifi को उपयोग करने के लिए सबसे पहले एक wifi Transmitter, wifi hub या फिर wifi router का होना चाहिए| यह wireless device Broadband connection के माध्यम से information को received करता है और इसके अन्दर ऐसे कई सारे Components होते हैं| 
  2. Wifi hub के अन्दर मौजूद Components, broadband connection के जरिए received किया हुआ information को Radio waves में convert कर देता है| 
  3. इस प्रक्रिया के कारण छोटा सा wireless signal का एक area बन जाता है, जिसे हम सब wifi zone के नाम से जानते हैं|
  4. Wifi zone एक प्रकार का छोटासा area का रुप लेता है, जिसे हम WLAN के नाम से जानते हैं| WLAN यानी की "wireless local area network".
  5. वह छोटी सी area के अन्दर जितने सारे भी devices होते हैं जैसे की Laptop, smartphone, printer आगर इन device में "in built Wireless Adapter" लगा हुआ रहता है तो वो सभी के सभी devices बडी ही आसानी के साथ wifi signal को access कर सकता है| लेकिन दोस्तों काफी सारे wifi hub में password set किया रहता है तो ऐसे में उन्हीं लोग wifi access करते हैं, जिनको wifi password मालुम रहता है| 



Wifi को कितना दूरी तक प्राप्त कर सकते हैं?

दोस्तों आपको यहां तक तो जरूर समझ में आ चुका होगा की wifi एक छोटासा wireless local area network create करता है और ऐसे में उस area के अन्दर मौजूद सभी device wifi signal को access कर सकता है, बास उस device के अन्दर in built wireless adapter लगा होना चाहिए| 


Wifi signal छोटा सा area में create होता है जोकि लगभग 100 मीटर के आस पास होता, लेकिन यहाँ पर बता दें की आप wifi hub के जितना नजदीक रहेगें उतना ज्यादा radio signal strong रहेगा| 


Wifi Radio wave signal strong रहेगा तो आपके device में internet speed बहुत ही fast होगा| 


तो यहां पर बता दें की wifi signal से high speed internet प्राप्त करना चाहते हो तो ऐसे में आपका device को wifi router से कम से कम 20/25 मिचर के अन्दर ही होना चाहिए| 


Radio wave signal का क्षमता होती है की दीवार के दूसरी पार भी जा सकती है, जिसके कारण हम अपना घर में wifi router को लगाते हैं तो किसी भी room से wifi signal access कर सकते हैं| 


एक घर के लिए एक wifi router काफी होता है और वो भी high speed internet के साथ access मिल जाएगा| 

कुछ जरुरी बातें :- Laptop और smartphone में wireless adapter होता है जिसके कारण यह device wifi को access करता है, लेकिन कुछ ऐसी device होता है जैसे की desktop जिसमें wireless adapter नहीं होता है| दोस्तों ऐसे device में wifi को उपयोग करने के लिए wireless card या adapter को खरीदना पडता है और उसे हमें desktop का USB post में जानना होता है और हम यह wireless card के जरिए desktop पर internet को access कर सकते हैं| 


दोस्तों आज के यह technology दुनिया में हर एक smartphone में wifi के साथ साथ एक hot-spot का भी option रहता है जिसके जरिए हम अपना mobile phone से ही अपने आस पास का device में internet connection प्रदान कर सकते हैं| 



Wifi के features क्या क्या होता है? 

आज के समय में internet को use करने के लिए ऐसे काफी सारे सोर्स मौजूद है| 


यह wifi कैसे काम करता है जिससे की हम wifi network access करते हैं उसके बारे में already बता दिया गया है, तो यहां पर हम आखिर जान ही लेते हैं की wifi के features क्या होता है ताकि हम आगे wifi को ओर भी ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने लगे|

 Wifi का features ऐसे बहुत सारे है जिसे यहां पर जान लेते हैं :- 

Wifi का Efficiency 

किसी भी मशीन या फिर technology के काम करने की क्षमता को ही उसकी efficiency कहा जाता है, तो यहां पर हम wifi का क्षमता के बारे में जानने वाले हैं| 

  • आज कल के समय में ज्यादा से ज्यादा लोग अपने मोबाइल फोन का cellular data को ही use करते हैं और इसके पीछे यह reason है की wifi के मुकाबले cellular data का area बहुत बडा होता है| 
  • जब आप travelling कर रहे होते हैं बस, ट्रेन या कार किसी भी जान में तो ऐसे समय में आपका device बार बार अलग अलग network के साथ connect होता है, जिससे की आपका मोबाइल फोन का battery बहुत ही ज्यादा खप्त होता है और कम समय के अन्दर ही अपना mobile charge खत्म (discharge) हो जाता है| लेकिन travelling के समय में आगर आप अपना device को wifi के साथ connect करते हो तो आपको ऐसा problem face करना नहीं होता है| 
  • Wifi हमे internet connection provide करने के लिए radio wave का use करता है और इसके लिए एक wifi router की आवश्यकता होती है| इस router को आप जितना हो सके इतना कम दूरी पर उपयोग करते हैं जिससे आपना मोबाइल फोन का battery charger जल्द खत्म नहीं होता है| 


Wifi का accessibility

  • देखा जाए तो mobile internet data के मुकाबले में wifi की किमत बहुत ही ज्यादा सस्ते पडता है, यानी की mobile internet data की किमत बहुत ही ज्यादा होती है और वो भी कई गुणा ज्यादा| 
  • कम दूरी के अन्तर्गत जैसे की collage, hostel, office, company इस तरह के जगह पर wifi एक बहुत ही बेहतर और सस्ता विकल्प है| 
  • Mobile data connection को उपयोग करना limit होता है लेकिन wifi data को use करने में ऐसा कोई भी limitations नहीं है, यानी की आप wifi के जरिए जितना चाहे उतना wifi internet connection को उपयोग कर सकते हो| 



Wi-Fi का internet speed कैसा होता है?

  • जब हम wifi से एक device Run करते हैं और फिर mobile data से device को Run करते हैं तो वहां पर हमको ये पता चलता है की mobile data यह internet speed के मामले में wifi का मुकाबला ले ही नहीं सकता है|
  • Wifi का internet speed बहुत ही ज्यादा fast होता है| 
  • Mobile data में हम सिर्फ video देख सकते हैं, online book पढ सकते हैं और mail कर सकते हैं इतना ही speed देता है mobile data, लेकिन wifi network से हन कुछ भी करें बहुत fast होता है| 
  • Mobile data connection हम कोई भी movie download करते हैं तो वहां पर हनको जरूर कुछ समय इन्तजार करना होगा, लेकिन wifi से कुछ ही मिनटो के अन्दर movie downloaded complete हो जाएगा| 
  • आगर आप mobile data से live streaming करते हो तो ऐसे में वहां पर loading लेने में ही काफी समय लग जाएगा| Live streaming करने के लिए wifi ही सबसे best option है| 


Wifi का coast कितना होता है? 

  • एक ऐसा समय था जब mobile data को recharge करने के लिए भी काफी सोचना पडता था, लेकिन Jio 4G आने बाद में सभी लोगों को internet use करने में आसान हो गई है| 
  • आगर calculate किया जाए तो jio 4G के बाद लाखों का data को लोगों ने बिलकुल मुफ्त में उपयोग किया| 
  • Wifi का सबसे बडा advance features यह है कि इसका कोई भी plan ले कर सिर्फ आप ही नहीं आपके घर वालें, पडोस वालें, आपके दोस्त इन सभी लोग सिर्फ एक ही plan से use कर सकते हैं| 
  • आप अपना घर में लगा सकते हो या फिर office लगवा सकते हो और ढेर सारे devices सिर्फ एक ही plan से फायदा ले सकते हैं| 
  • मान के चलो आप अपना mobile data recharge करते हो तो आप सिर्फ एक ही मोबाइल फोन में उपयोग कर सकते हो लेकिन आगर आप hotspot से data sharing करते हो तो कम से कम 2 या 3 devices में लाभ ले सकते हो, लेकिन wifi network सिर्फ एक ही plan से 10/15/20/25 device को connect कर सकते हो| 



Wifi के फायदे क्या होता है? 

Wifi full form और wifi क्या है इसके बारे में तो आपको जरूर से समझ आ चुका होगा, लेकिन आपको यह भी पता होना चाहिए की wifi को हम क्योंकि इस्तेमाल करें? 


कहने का मतलब यह है कि wifi के फायदे ऐसा क्या क्या है जिससे की कोई व्यक्ति wifi को उपयोग करे! 
दोस्तों देखा जाए तो wifi का काफी फायदे है और mobile data और wifi के बीच में काफी सारे difference है| 


तो चलिए यहां पर जान लेते हैं कि benefits of wifi क्या क्या होता है! 

  • Wifi को हम किसी भी device से connect कर सकते हैं, जिस device के अन्दर wifi adapter लगा हुआ है| 
  • Laptop, computer, smartphone, tablet किसी भी device से wifi network connect कर सकते हैं| 
  • Multiple device को सिर्फ एक ही wifi network के साथ बडी ही आसानी के साथ connect कर सकते हैं| 
  • Wifi को connect करना बहुत ही आसान होता है, बास wifi on करना है और password डालना है इतना में ही आपका device wifi के साथ connect हो जाएगा| 
  • Wifi hub या wifi router को installation करना भी काफी आसान है, wifi router को installation करने के लिए किसी भी प्रकार का technical knowledge की जरुरत नहीं होता है यानी की इसे चाहे कोई भी व्यक्ति कर सकता है| 
  • Access point से बने हुए wifi network में किसी भी clients को जोडना और remove करना बहुत ही ज्यादा आसान होता है| 
  • Wireless internet network के लिए आपको किसी भी प्रकार का cable की जरुरत नहीं होती है, जिससे हमारे network का खर्चा काफी हद तक बचत होती है और उसके साथ साथ cable लगाने के लिए लगने वेला खर्चा भी बचत होती है| 
  • आगर cable के जरिए wifi access करते तो, कई सारे device को wifi के साथ connect करने के लिए काफी ज्यादा खर्चा हो जाता सिर्फ और सिर्फ cable लगाने में ही| 
  • Wifi हमें काफी speed internet connection provide करता है, जिससे हम किसी भी online काम को बहुत fast कर सकते हैं| 
  • Wifi network में data use करने में कोई भी limitations नहीं रहता है| लेकिन आपको पता है की mobile data को हम per day 1 GB/ 1.5 GB या फिर 2GB data use कर सकते हैं| 


Wifi का नुकसान क्या होता है? Wifi disadvantage in hindi?

दोस्तों wifi हमे कई सारे फायदे देता है लेकिन फिर भी wifi का कुछ नुकसान भी है, तो चलीए जान लेते हैं की wifi के नुकसान क्या होता है? 

  • Wifi का सबसे बड़ा नुकसान यह है की wifi के जरिए एक व्यक्ति अपना system में घूस सकता है और अपना data information को hack भी कर सकता है|
  • जब एक ही wifi network के साथ काफी सारे devices connect हो जाते हैं तो वहां पर internet connection की speed थोडा slow हो जाता है| 
  • Wifi को हम एक fixed location में ही access कर सकते हैं लेकिन जब आप location से दूर जाते हैं तो ऐसे में network की स्टेथ धीरे धीरे खत्म होती जाती है| 


Father of wifi in hindi? Wifi को किसने आविष्कार क्या था? 

Wifi को सबसे पहले Vic Hayes ने आविष्कार किया था या फिर John O’Sullivan और John Deane ने आविष्कार किया था| 

यह सवाल काफी सारे लोगों के अन्दर है और इसका सही जबाब शायद किसी को पता नहीं है| 

काफी सारे लोगों का मानना है की wifi का आविष्कार Vic Hayes ने किया था और काफी सारे लोगों का मानना है की wifi के आविष्कार John O’Sullivan और John Deane ने मिल के किया था| 


सबसे पहला wifi कब बनाया गया था?

Wifi को सबसे पहले 1990 में Vic Hayes ने IEEE802.11 wireless working group का निर्माण किया था| 


1997 में wireless local area network का "802.11" standard को तैयार किया गया था| उस समय यह standard में data transfer की speed 2 megabyte per second था| 
1999 में "802.11"a  standard को आविष्कार किया गया जिसकी data transfer की speed 54 megabyte per second था| लेकिन यह wifi standard बहुत ही ज्यादा महंगा था| 
802.11a standard बहुत महंगा होने के कारण इसका ओर एक अगला version को आविष्कार किया गया जिसे 802.11b कहा जाता है| दोस्तों यह सस्ता भी था और इसका new to rang भी काफी अच्छा था| 


दोस्तों कुछ इस तरीके से ही यह wifi का शुरुआत हुआ है और आज लाखों लोग wifi को उपयोग कर रहे हैं| 


Wifi का standard! 

दोस्तों यहां पर बता दें की wifi का कई सारे standard है और वो सभी का facility अलग अलग होता है| 

  • IEEE802.11a ::-    Wifi IEEE802.11a standard को 1999 में IEEE के द्वारा बनाया गया था, जोकि 5GHz आवर्ती पर 54 megabyte per second के गति से 115 फिट तक data transfer करता है| 
  • IEEE802.11b ::-    Wifi IEEE802.11b standard को 1999 में खास तौर पर घरेलू उपयोग के लिए बनाया गया था, जोकि 5GHz आवर्ती पर 11 megabyte per second के गति से 115 फिट तक data transfer करता है| 
  • IEEE 802.11g ::-    wifi IEEE 802.11g को वर्ष 2003 में 802.11a और 802.11b को एक साथ मिला कर बनाया गया था, जोकि 2.4 GHz आवर्ती पर 54 megabyte per second के गति से 125 फिट तक data transfer काम करता है| 
  • IEEE 802.11n ::-    wifi IEEE 802.11n को 2009 में 2.4 GHz व 5 GHz यह दोनों का आवर्ती राऊटर पर काम करने के लिए इसे बनाया गया था, जोकि 54 megabyte per second के हिसाब से 230 फिट तक data transfer करता है| 
  • IEEE 802.11ac ::-    wifi IEEE 802.11ac को 2009 में बनाया गया था जोकि 5 GHz आवर्ती पर 1.3 gigabyte per second के हिसाब से 115 फिट तक data transfer करता है| 


दोस्तों यहां पर दिए गए standard को follow करके हम computer को wireless network के साथ जोडते हैं| Wifi enable हो जाने के बाद वो wireless router के साथ जोड जाता है, जिसके वजह से वो device internet को access कर पाता है| 


Wifi वैसे आगर देखा जाए तो Hi fi के साथ मिलता जुलता शब्द है और यह Hi fi फुल फार्म है "High Fidelity". 



Wifi 6 क्या है? 

दोस्तों wifi 6 यानी की wifi का next generation standard है| Wifi 6 को "AX wifi" या फिर "IEEE802.11ax" के नाम से भी जाना जाता है| 


Wifi 6 को आज के समय में सबसे ज्यादा तेज Wi-Fi माना जाता है| Wifi IEEE805.11ac के बाद यह wifi 6 को बनाया गया है| दुनिया में उपकरणों की बढ़ती संख्या को नजर में रखते हुए wifi 6 को बनाया गया है| 


Wifi 6 बहुत ही ज्यादा मात्रा में तेज है और इस wifi के साथ एक ही बार में काफी device को connect कर सकते हैं| 


Wi-Fi 6 की dada transfer speed 10 Gigabyte per second है, जिससे की हमको काफी high speed internet मिलता है| 


Wi-Fi standard Wi-Fi name :- 

  • IEEE802.11a इस wifi को Wi-Fi 1 कहा जाता है|
  • IEEE802.11b इस wifi को Wi-Fi 2 कहा जाता है|
  • IEEE802.11g इस wifi को Wi-Fi 3 कहा जाता है|
  • IEEE802.11n इस wifi को Wi-Fi 4 कहा जाता है|
  • IEEE802.11ac इस wifi को Wi-Fi 5 कहा जाता है|
  • IEEE802.11ax इस wifi को Wi-Fi 6 कहा जाता है|

Wifi 6 को आगर देखा जाए तो इसे बहुत ही ज्यादा advance upgrade करके बनाया गया है| 


Wifi 6 को design करने के पीछे क्या reason है?

दोस्तों wifi 6 को design करने के पीछे कारण यह है की internet speed, हां भाइयों internet speed हो ही improvement करने के लिए wifi 6 को design किया गया है|


Wifi 6 में internet speed को improve करने के साथ साथ wifi का efficiency को भी काफी improve किया गया है और wifi 6 का radio network rang काफी high level पर है, जोकि हर एक व्यक्ति के लिए लाभदायक है जो wifi को उपयोग करता है| 


Wifi 6 के फायदे? 

  • Wifi 6 के साथ connected सभी device को high speed internet provide करता है| 
  • सभी devices बिलकुल ही कम बिजली पर चलेगी यह wifi 6 के कारण| 
  • बैटरी की life ओर ज्यादा देर तक टिकेगा, जोकि हमारे लिए बहुत अच्छी बात है| 
  • Internet connection आगर अच्छा नहीं होता है तो अपना मोबाइल फोन का बैटरी चार्ज भी बहुत जल्द खत्म होता है लेकिन wifi 6 में network rang अच्छा होने के वजह से मोबाइल फोन का चार्ज भी ज्यादा देर तक रहने वाला है| 
  • Wifi 6 में दौड भाग वाले area में भी अच्छा network signal मिलता है| 


Wifi 6 के नुकसान? 

Wifi 6 अभी तक market में launch नहीं हुआ है, लेकिन कई बारे घोषणा की गई है बड़ी ही जल्द market में wifi 6 आने वाला है| 
Wifi 6 router का थरथराहट आवाज थोडा ज्यादा होने वाला है| 


Wifi कैसे लगवाएं?

यहां से आपको wifi के बारे में काफी सारे जानकारी मिल गई होगी, लेकिन आगर आप wifi इस्तेमाल करना चाहते हो तो ऐसे में आपको wifi कैसे लगाए जाते हैं उसके बारे में जानना होगा| 


  • Wifi लगाने से पहले आपको यह पता होना चाहिए की आपके area में कौन कौन सा network available है| कोई area में Airtel network अच्छा रहता है, कोई area में jio का network अच्छा रहता है तो कोई area में BSNL का network अच्छा रहता, इन्हीं के बारे में सबसे पहले जानना है| 
  • आपके area में जो network available है और wifi का सेवा प्रदान कर रही है उनसे आपको सम्पर्क करना है और plan के बारे में जानना है, यहां पर आप अपने हिसाब से कोई भी plan को choose कर सकते हो| 
  • आप अपनी जरुरत के हिसाब से plan को चुनने के बाद wifi network के लिए order करें| 
  • जब wifi connection create हो जाए तो router को access करके user id और password set करना है| 
  • इस प्रकार आपका अपना wifi network create हो जाएगा ओर बाद में आपको बास wifi hub को enable करना है और आप किसी भी device से wifi password enter करके wifi network को access कर सकते हो|


Hotspot meaning in Hindi? 

दोस्तों अपना android devices में मौजूद यह hotspot एक बहुत ही बडा useful option है, जिसके जरिए आप अपने दोस्तों को या फिर अपने आस पास के लोगों को internet connection share कर सकते हो| 

Hotspot meaning in Hindi. Hotspot kya hai. Hotspot ka matlab kya hota hai.
Hotspot meaning in Hindi!

Botspot भी बिलकुल wifi की तरह ही काम करता है लेकिन hot-spot high speed data transfer नहीं कर सकता है जितना की यह wifi करता है| 


दोस्तों wifi की तरह ही hotspot में भी password set किया जाता है| 


Hotspot full form! 

दोस्तों यहां पर बता दें की hot-spot प्रकार का पूर्ण रूप है, यानी की hotspot का फुल फार्म नहीं है| 

Hotspot full form in Hindi. Hotspot ka full form. Hotspot full name.
Hotspot full form!

काफी सारे भाई लोग होते हैं जोकि hotspot full form के बारे में जानना चाहते हैं तो उन भाइयों को एक ही बात बोलना चाहूंगा की hotspot एक full name है, जिसका कोई फुल फार्म नहीं है| 


Hotspot कैसे enable करें? 

Hotspot enable करना काफी आसान होता है और यह काम कोई भी व्यक्ति कर सकता है|

Hotspot में पहले ही एक password set किया हुआ रहता, लेकिन आपको जरूर से उसे change कर देना चाहिए और एक unique or strong password set कर देना चाहिए| 

  • Whatsapp enable करने के लिए आपको अपना मोबाइल फोन का setting manager में जाना होगा|
  • Setting के अन्दर एक personal hotspot का option देखने को मिल जाएगा जिसके उपर आपको click करना है| 
  • Hotspot के अन्दर जाने के बाद on/off करने जैसा आपके सामने एक button show हो जाएगा, जिसे click करके आप अपना hotspot को enabled और disable कर सकते हो| 
  • दोस्तों वहां पर ही नीचे hotspot password का option देखने को मिल जाएगा जहां पर आप click करके आपके hotspot का password को change कर सकते हो|


Hotspot के फायदे? 

  • किसी व्यक्ति को आप कितना mb data transfer करना चाहते हो उसे आप set कर सकते हो, उसके बाद होगा ये की आपके मोबाइल फोन का hotspot से data transfer होना stop हो जाएगा और यह एक प्रकार का बहुत ही अच्छा option है| 
  • Wifi की तरह ही hotspot network में भी कई सारे device को connect कर सकते हैं| 
  • आगर आप कहीं घूमने जाते हो तो ऐसे परिस्थिति में आप wifi को अपने साथ नहीं ले जा सकते हो लेकिन hotspot को कहीं पर भी ले जा सकते हो क्योंकि hotspot अपना mobile device पर होता है| 


Hotspot के नुकसान? 

  • Hotspot से हमको high speed internet connection नहीं मिल पाती है| 
  • Network rang की तुलना में wifi से काफी कम होता है यह hotspot. 
  • Hotspot पर आप unlimited device को connect नहीं कर सकते हो, इसका भी एक limit होता है| काफी सारे mobile का hotspot में आप सिर्फ 8 ही device को connect कर सकते हो, लेकिन wifi network के साथ आप unlimited devices को connect कर सकते हो| 


Wifi का history क्या है? History of Wi-Fi in hindi? 

Wifi का शुरुआत सन 1985 में हुआ था और USA FCC ने जब यह एलन किया की बिना license के किसी भी व्यक्ति wireless frequency 900MHZ, 2.4 GHz और 5.8 GHz को उपयोग कर सकता है| इसी समय में ही wifi का शुरुआत हुआ था| 


उस समय में इन bands को (wireless frequency 900MHZ, 2.4 GHz और 5.8 GHz) घरेलू उपकरणों में उपयोग किया जाता था, इसी लिए शायद उस समय में इसका use ही नहीं था| खास करके इस bands को उपयोग लायग बनाने के लिए FCC ने इसका उपयोग को बिलकुल पुरी तरह से अनिवार्य कर दिया था और इसका नाम रखा गया "Speard Spectrum Technology". 


Spread spectrum technology को पहले के समय में कोई भी व्यक्ति बिना license के उपयोग कर सकता था लेकिन 1941 से इसे उपयोग करने के लिए license लिया गया था और George Antheil और Actor Hedy Lamarr थे जोकि Spread spectrum technology का license को लेने वाले थे| 


इस बदलाव के साथ साथ wireless signal काफी सारे improvement किया गया था| तब उस समय में वो technology थी की signal को Multiple frequencies में अलग अलग devices पर भेजा जाता था| 


यह Technology Interference Problems को ठिक करने में पुरी तरह से नाकामयाब रहा था क्योंकि उस समय में सभी मोबाइल फोन पर पहले से ही Radio install रहता था और यह signal की quality को काफी ज्यादा असर देता था| 


उस समय में ओर एक technology लोगों के सामने आ रही थी जिसका नाम है "Wireless Local Area Network" (WLAN) लेकिन इस समय में इसके अन्दर काफी सारे खराबी था और इसका कोई भी standard नहीं था| 


उस समय में WLAN के साथ अलग अलग company की device को connect करने में बहुत ही ज्यादा दिक्कत होती थी| 


सन 1988 में तत्कालीन NCR Corporation को एक प्रकार का wireless Cash REGISTER की काफी जरुरत थी| इसी लिए NCR Corporation ने Victor Hayes और Bruce Tuch के सहयोग के साथ मिल करके उन्होंने ने Institute of Electrical and Electronic Engineers (IEEE) को एक प्रकार का Standard बनाने की फैसला किया| 


Wifi का सबसे पहला standard को सन 1997 में public किया गया था और उस standard का नाम है "IEEE802.11" |.


802.11 standard की wifi में data transfer speed बहुत ही कम था और इसका network range भी काफी कम था, जिससे कारण इसका बहुत सारे upgrade standard को launch किया गया है| 


Wifi के 802.11b standard बहुत ही कम समय के अन्दर popular हो गई और उस समय से wifi को इस्तेमाल करने वाले लोग के शंख्या धीरे धीरे बढने लगे| 


Conclusions ::- 
(wifi full name?) 


Hello दोस्तों मेरा नाम है Pradeep Minz और आप सभी को prdptech.com वेबसाइट पर स्वागत है, यहां पर हम wi fi का फुल फार्म के बारे में जानकारी share किए हैं| 


आज के समय में market के अन्दर यह service इतना ज्यादा लोकप्रिय है जिसके कारण हर किसी को wifi क्या है उसके बारे में जानना जरुरी है| 


आगर आप चाहते हो की wifi full form के बारे में आपके दोस्त लोगों को भी पता होना चाहिए तो ऐसे में आप यह post को share कर सकते हो| 



दोस्तों मुझे उम्मीद है की यहां पर दिए गए जानकारी आपको काफी पसन्द आया होगा और आपको बिलकुल अच्छे से पता चल चुका होगा की आखिर यह wifi long form क्या है| आगर आपके अन्दर wifi से जुड़े ऐसा कोई भी जानकारी अधुरा रह गई है तो आप यहां पर comment कर सकते हो| 

0 comments: